Wednesday, 11 March 2020

Breakup GF status.com



Breakup GF status.com


ऐसा नहीं कि दिल में तेरी तस्वीर नहीं थी, पर हाथो में तेरे नाम की लकीर नहीं थी.


उठाकर फूल की पत्ती उसने बङी नजाकत से मसल दी,इशारो इशारो मेँ कह दिया की हम दिल का ये हाल करते है.




फ़िक्र तो तेरी आज भी करते हैं ,बस जिक्र करने का हक़ नही रहा.



कुछ रूठे हुए लम्हें कुछ टूटे हुए रिश्ते, हर कदम पर काँच बन कर जख्म देते है.


टूटे हुए सपनो और छुटे हुए अपनों ने मार दिया ,वरना ख़ुशी खुद हमसे मुस्कुराना सिखने आया करती थी.


मुझे मालूम था कि वो रास्ते कभी मेरी मंजिल तक नहीं जाते थे,फिर भी मैं चलता रहा क्यूँ कि उस राह में कुछ अपनों के घर भी आते थे!

Dil tuta GF status shayari

हमने गुज़रे हुए लम्हों का हवाला जो दिया,हँस के वो कहने लगे रात गई बात गई.


बहल तो जाता उसके झूठे वादों से मेरा दिल लेकिन कब तक चलती पानी मे, काग़ज की कश्तियाँ.


हम तो जल गये उसकी मोहब्बत में मोमकी तरह, अगर फिर भी वो हमें बेवफा कहे...तो उसकी वफ़ा को सलाम.


उंगलिया आज भी इस सोच में गुम है , उसने कैसे नए हाथ को थामा होगा.


अभी-अभी एक टूटा तारा देखा बिलकुल मेरे जैसा था,चाँद को कोई फर्क नहीं पड़ा बिलकुल तेरे जैसा था !


मुझे हराकर कोई मेरी जान भी ले जाए मुझे मंजुर है ,,लेकिन धोखा देने वालों को मै दुबारा मौका नही देता.


जाते हुए उसने सिर्फ इतना कहा मुझसे..ओ पागल …अपनी ज़िंदगी जी लेना,वैसे प्यार अच्छा करते हो.

Break for GF
लफ्जो मे गर बयां हो जाती मोहब्बत मेरी तो आज वो बेवफा ना होता.


ना रख उम्मीद-ए-वफ़ा किसी परिंदे से,जब पर निकल आते हैं तो अपने भी आशियाना भूल जाते हैं.


चली जाने दो उसे किसी ओर की बाहों मे ,इतनी चाहत के बाद जो मेरी ना हुई, वो किसी ओर कि क्या होगी.


आख़िर तुम भी उस आइने की तरह ही निकले, जो भी सामने आया तुम उसी के हो गए.


हमारे दुश्मनों को हमारे सामने सर उठाने की हिम्मत नही और वो पगली दिल से खेल कर चली गयी.


वो अपना काम निकालते हैं कुछ इस हुनर से कि आप धोखे खाकर भी उनसे मिला करते हैं.


बरसों पहले अलविदा कह गयी थी जो कल फिर मिली बाजार में, उसकी गाड़ी बड़ी थी और मेरी दाढ़ी.


छोड़ दिया हमने उसका दीदार करना हमेशा के लिए ,‘दोस्त’ जिसको प्यार की कदर ना हो उसे मुड़ मुड़ के क्या देखना .


मौसम की तरह बदलते है उस के वादे इरादे, उपर से ये ज़िद है कि तुम मुझ पे एतबार करो.


सच कहा था किसी ने तन्हाई में जीना सीख लो ;मोहब्बत जितनी भी सच्ची हो साथ छोड़ ही जाती है.

Girlfriend backups
संवर रही है अब वो किसी और के लिए,पर मैं बिखर रहा हूँ आज भी उसी के लिए.


अब शिकायतेँ तुम से नहीँ खुद से है, माना के सारे झूठ तेरे थे.लेकिन उन पर यकिन तो मेरा था.


तुमने मजबूर किया हम मजबूर हो गये ,तुम बेवफा निकले हम मशहूर हो गये .


देख कर उसको तेरा यूँ पलट जाना, नफरत बता रही है तूने मोहब्बत गज़ब की थी.


तुमने क्या सोचा कि तुम्हारे सिवा कोई नही मुझे चाहने वाला,पगली छोङ कर तो देख, मौत तैयार खङी है मुझे अपने सीने लगाने के लिए.


"बेवफ़ाओं की महफ़िल लगेगी आज, ज़रा वक़्त पर आना  मेहमान-ए-ख़ास हो तुम."


वो अक्सर देता है मुझे , परिंदों की मिसाल .साफ़ नहीं कहता के , मेरा शहर छोड़ जाओ.


"जरा देखो तो ये दरवाजे पर दस्तक किसने दी है? अगर 'इश्क' हो तो कहना, अब दिल यहाँ नही रहता."


अगर मैं भी मिजाज़ से पत्थर होता..तो खुदा होता या तेरा दिल होता.


धोखा देती है अक्सर मासूम चेहरे की चमक,हर काँच के टुकड़े को हीरा नहीं कहते.


अपने कर्म से वो मेरा मुक़द्दर बना गए, एक क़तरे को पल में समुन्दर बना गए, फूलों से भी ज्यादा नरम था, कभी दिल ये मेरा, इतना तड़पाया उसने कि पत्थर बना गए..


मुझे ढुंढने की कोशिशे अब मत किया कर,तुने रास्ता बदला तो हमने मंजिल।


मेरी ही चाहत से परहेज है उसको जाने किस हक़ीम की दवा लेती है वो।


अब तेरी आँखों में आँसू क्यों पगली , जब छोड़ ही दिया तो भुला भी दिया होता .


तेरी मोहब्बत को कभी खेल नही समझा ,वरना खेल तो इतने खेले है कि कभी हारे नही.

Dil jkhami GF status shayari
टुकड़े पड़े थे राह में किसी हसीना की तस्वीर के,लगता है कोई दीवाना आज समझदार हो गया.


मुझें छोड़कर वो खुश हैं तो शिकायत कैसी, अब मैं उन्हें खुश भी न देखूं तो मोहब्बत कैसी.


हो गई थी दिल को कुछ उम्मीद सी तुमसे खैर तुमने जो किया अच्छा किया.


मेरा कुछ ना ऊखाड सकोगे तुम मुझसे दुश्मनी करके,मुझे बर्बाद करना चाहते हो तो, मुझसे मोहब्बत कर लो.


इतना भी गुमान न कर अपनी जीत पर ऐ बेखबर,शहर में तेरी जीत से ज्यादा चर्चे तो मेरी हार के हैं!


शिकवे शिकायत में उलझ कर रह गई मोहब्बत अपनी, समझ नहीं आता इश्क किया था या कोई मुकदमा लङ रहे थे.


वो अपनी गली की रानी होने का गरूर करती है ,नादान ,ये नहीँ जानती कि हम उसी शहर के बादशाह है .


वो बड़े ताजूब से पूछ बैठा मेरे गम की वजह,फिर हल्का सा मुस्कराया, और कहा मोहब्बत की थी ना ?


कुछ इस तरह से मेरी ज़िन्दगी को मैंने आसान कर लिया,भुलाकर तुझे, मेरी तन्हाई से मैंने प्यार कर लिया.


गुज़र गया आज का दिन पहले की तरह ना हम को फुरसत मिली ना उनको ख्याल आया .


रहते थे कभी जिनके दिल में हम अजीजों की तरह ,बैठे हैं हम आज उनके दर पे फकीरों की तरह .


कभी बंद आँखों से पढ़ लेते थे, तुम मेरे साये की आवाज को भी.. और आज भरी महफ़िल में, मेरे नाम को अनसुना सा कर देते हो.


एक बात पूछूं जवाब मुस्कुरा के देना ,मुझे रुला कर तुम खुश तो होना ?


आज सड़क पर निकले तो तेरी याद आ गईतूने भी इस सिग्नल की तरह रंग बदला था.

Maal brack Stetus
मत कर इतना गुरुर खुद पर... हमने चाहना छोड़ दिया. तो लोग पूछना भी छोड़ देंगे.


आज वो जुदा इसलिये है, शायद किसीने मेरे प्यार का अंजाम सोच रखा था.


"वफादार और तुम...?? ख्याल अच्छा है.
 बेवफा और हम...?? इल्जाम भी अच्छा है."


अगर हमारी उल्फतों से तंग आ जाओ तो बता देना ,हमें नफरत तो गवारा है मगर दिखावे की मोहब्बत नहीं.


मेरी नासमझी की भी हद ना पूछिए दोस्तों, उन्हें खोकर हम फिर उन जैसा ही ढूढ रहे हैं.


संगमरमर से तराशा खुदा ने तेरे बदन को ,बाकी जो पत्थर बचा उससे तेरा बना दिया .


ना होना बेमुरव्वत, ना दिखाना बेरुखी,बस सादगी से कहना के ‘बोझ बन गये हो तुम’.

Brackup GF status





No comments:

Post a comment