Saturday, 25 January 2020

National flag love status new shayari

 National flag love status new shayari




🌹 दिल से निकलेगी न मर कर भी वतन की उल्फ़त, मेरी मिट्टी से भी ख़ुशबू-ए-वफ़ा आएगी।



🇮🇳 रात के अंधियारे में , जब तक रुतबा रहेगा चाँद का , कारगिल की चोटियों पर , तब तक फैरता रहेगा तिरंगा शान का . धरती क्या आसमान में , डंका बजेगा हिंदुस्तान नाम का..!! 🇮🇳



🌹🇨🇮 तलवार उठाने से पहले तुम इसीलिए मिट जाने वालों का गौरव गान करो || आरती सजाने से पहले तुम इसीलिए , आजादी के परवानो का सम्मान करो|| 🌹🇨🇮



🇮🇳 नफरत बुरी है, न पालो इसे, दिलो में खालिश है, निकालो इसे, न तेरा, न मेरा, न इसका, न उसका ये सबका वतन है, संभालों इसे! स्वतंत्रा दिवस की बधाई! 🇮🇳



🌹🇨🇮 मैं भारत बरस का हरदम अमित सम्मान करता हूँ यहाँ की चांदनी मिट्टी का ही गुणगान करता हूँ, मुझे चिंता नहीं है स्वर्ग जाकर मोक्ष पाने की, तिरंगा हो कफ़न मेरा, बस यही अरमान रखता हूँ। 🌹🇨🇮🇮🇳

Desh bhakti shayari



🇮🇳🇮🇳 जो कामयाबी है उसकी खुशी तो पूरी है, मगर यह याद भी रखना बहुत जरूरी है। की दास्तां अभी हमारी अधूरी है, बहुत हुआ है मगर, फिर भी यह कमी तो है। बहुत से होठों पर मुस्कान आ गई लेकिन, बहुत सी आंखें हैं जिनमें अभी नमी तो है। 🇮🇳🇮🇳


 आओ देश का सम्मान करें, शहीदों की शहादत को याद करें, एक बार फिर से राष्ट्र की कमान, हम हिन्दुस्तानी अपने हाथ धरे, आओ स्वंतंत्र दिवस का सम्मान करें!


💃🏻🇨🇮🌿🌹🇮🇳🇮🇳🌷🇮🇳🏌🏻‍♂ वो अब पानी को तरसेंगे जो गंगा छोड़ आये हैं, हरे झंडे के चक्कर में तिरंगा छोड़ आये हैं। 💃🏻🇨🇮🌿🌹🇮🇳🇮🇳🌷🇮🇳🏌🏻‍♂


 ज़माने भर में मिलते हे आशिक कई , मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता , नोटों में भी लिपट कर, सोने में सिमटकर मरे हे कई, मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता


यक़ीन हो, के ना हो, बात तो यक़ीन की है, हमारे जिस्म की मिट्टी, इसी ज़मीन की है।


🌹 ज़श्न आज़ादी का यूँ मनाया जाये, दर्द हर दिल का मोहब्बत से मिटाया जाए। Happy Independence Day 🌹


🏌🏻‍♂ खून से खेलेंगे होली, अगर वतन मुश्किल में है, सरफरोशी की तमन्ना, अब हमारे दिल में है, 💃🏻


💃🏻🇨🇮🌿🌹🇮🇳🇮🇳🌷🇮🇳🏌🏻‍♂ सदा ही लहराता रहे ये तिरंगा हमारा सारे जहां से अच्छा हिन्दुस्तान हमारा गूंज उठता हैं जहां में चारो ओर….. लोगो की जुबान से वन्दे मातरम का नारा वतन की सर बुलंदी के लिए ये दिल क्या ख़ुशी ख़ुशी मिट जाए ये जिस्म भी हमारा जो शहीद हो गए वो अमर कहलाये अक्सर उनकी कुरबानियों के आगे सदा नमन हमारा इस देश के वासी बखूबी ये जानते हैं की सोने की चिड़िया कहलाता प्यारा देश हमारा 💃🏻🇨🇮🌿🌹🇮🇳🇮🇳🌷🇮🇳🏌🏻‍♂


🌹🇨🇮🇮🇳🇮🇳🌹🏌🏻‍♂🇮🇳🇮🇳🌾 हम ज़मीं को तेरी नापाक न होने देंगे, तेरे दामन को कभी चाक न होने देंगे। तुझ को जीते हैं तो ग़मनाक न होने देंगे, ऐसी इक्सीर को यूँ ख़ाक न होने देंगे। जी में ठानी है यही जी से गुज़र जायेंगे, कम से कम वादा ये करते हैं के मर जायेंगे। 🌹🇨🇮🇮🇳🇮🇳🌹🏌🏻‍♂🇮🇳🇮🇳🌾


🌹🇨🇮🇮🇳🇮🇳🌹🏌🏻‍♂🇮🇳🇮🇳🌾 सुन्दर है जग में सबसे, नाम भी न्यारा है, जहाँ जाती-भाषा से बढ़कर, देश-प्रेम की धारा है, निशचल, पवन, प्रेम पुराना, वो भारत देश हमारा है!! स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाये! 🌹🇨🇮🇮🇳🇮🇳🌹🏌🏻‍♂🇮🇳🇮🇳🌾


🇮🇳🇮🇳😘🇨🇮💐💐🇮🇳🇮🇳 रात के अंधियारे में , जब तक रुतबा रहेगा चाँद का , कारगिल की चोटियों पर , तब तक फैरता रहेगा तिरंगा शान का . धरती क्या आसमान में , डंका बजेगा हिंदुस्तान नाम का..!! 🇮🇳🇮🇳😘🇨🇮💐💐🇮🇳🇮🇳


🇮🇳 आओ झुक कर सलाम करे उनको; जिनके हिस्से में ये मुकाम आता है; खुशनसीब होता है वो खून जो देश के काम आता है! 🇮🇳


 छोडो कल की बातें, कल की बात पुरानी, नए दौर में लिखेंगे, मिल कर नयी कहानी, हम हिन्दुस्तानी!


 विकसित होता राष्ट्र हमारा, रंग लाती हर कुर्बानी है फक्र से अपना परिचय देते, हम सारे हिन्दोस्तानी है |


🇮🇳 आन देश की शान देश की, देश की हम संतान हैं, तीन रंगों से रंगा तिरंगा, अपनी ये पहचान है! 🇮🇳


 चड़ गये जो हंसकर सूली; खाई जिन्होने सीने पर गोली; हम उनको प्रणाम करते हैं! जो मिट गये देश पर; हम सब उनको सलाम करते हैं! स्वतंत्रता दिवस की बधाई!


🇮🇳 ये बात हवाओं को बताये रखना, रोशनी होगी चिरागों को जलाये रखना! लहू देकर जिसकी हिफाज़त हमने की, ऐसे तिरंगे को सदा दिल में बसाये रखना!! 🇮🇳

National desh bhakti shayari


🇮🇳 वतन हमारा ऐसा कोई ना छोड पाये , रिश्ता हमारा ऐसा कोई न तोड़ पाये , दिल एक है जान एक है हमारी , हिन्दुस्तान हमारा है यह शान हैं हमारी। 🇮🇳


मज़हब कुछ हो हिंदी हैं हम सारे भाई भाई हैं, हिन्दू हैं या मुस्लिम हैं या सिख हैं या ईसाई हैं। प्रेम ने सब को एक किया है प्रेम के हम शैदाई हैं, भारत नाम के आशिक़ हैं हम भारत के शौदाई हैं। भारत प्यारा देश हमारा सब देशों से न्यारा है।


 गूँज रहा है दुनिया में भारत का नगारा, चमक रहा आसमान में देश का सितारा! आज़ादी के दिन आओ मिलके करें, दुआ की बुलंदी पर लहराता रहे तिरंगा हमारा!!


🇮🇳 ज़माने भर में मिलते हे आशिक कई , मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता , नोटों में भी लिपट कर, सोने में सिमटकर मरे हे कई , मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता.


 मुकम्मल है इबादत और मैं वतन ईमान रखता हूँ, वतन के शान की खातिर हथेली पे जान रखता हूँ !! क्यु पढ़ते हो मेरी आँखों में नक्शा पाकिस्तान का , मुस्लमान हूँ मैं सच्चा, दिल में हिंदुस्तान रखता हूँ !!


 काँटों में भी फूल खिलाएं इस धरती को स्वर्ग बनायें, आओ, सब को गले लगायें हम स्वतंत्रता का पर्व मनाएं


 इस देश के गौरव के खातिर, चल कुछ ऐसा काम करें, दुनिया देखे इसकी शान, और दुनिया वाले सलाम करें। 15 अगस्त यानी आज़ादी की शुभ कामनाएँ। Happy Independence.


 संस्कार और संस्कृति की शान मिले ऐसे, हिन्दू मुस्लिम और हिंदुस्तान मिले ऐसे हम मिलजुल के रहे ऐसे की मंदिर में अल्लाह और मस्जिद में राम मिले जैसे.

🌹 दिल से निकलेगी न मर कर भी वतन की उल्फ़त, मेरी मिट्टी से भी ख़ुशबू-ए-वफ़ा आएगी।


🇮🇳 रात के अंधियारे में , जब तक रुतबा रहेगा चाँद का , कारगिल की चोटियों पर , तब तक फैरता रहेगा तिरंगा शान का . धरती क्या आसमान में , डंका बजेगा हिंदुस्तान नाम का..!! 🇮🇳


🌹🇨🇮 तलवार उठाने से पहले तुम इसीलिए मिट जाने वालों का गौरव गान करो || आरती सजाने से पहले तुम इसीलिए , आजादी के परवानो का सम्मान करो|| 🌹🇨🇮


🇮🇳 नफरत बुरी है, न पालो इसे, दिलो में खालिश है, निकालो इसे, न तेरा, न मेरा, न इसका, न उसका ये सबका वतन है, संभालों इसे! स्वतंत्रा दिवस की बधाई! 🇮🇳


🌹🇨🇮 मैं भारत बरस का हरदम अमित सम्मान करता हूँ यहाँ की चांदनी मिट्टी का ही गुणगान करता हूँ, मुझे चिंता नहीं है स्वर्ग जाकर मोक्ष पाने की, तिरंगा हो कफ़न मेरा, बस यही अरमान रखता हूँ। 🌹🇨🇮🇮🇳


🇮🇳🇮🇳 जो कामयाबी है उसकी खुशी तो पूरी है, मगर यह याद भी रखना बहुत जरूरी है। की दास्तां अभी हमारी अधूरी है, बहुत हुआ है मगर, फिर भी यह कमी तो है। बहुत से होठों पर मुस्कान आ गई लेकिन, बहुत सी आंखें हैं जिनमें अभी नमी तो है। 🇮🇳🇮🇳


 आओ देश का सम्मान करें, शहीदों की शहादत को याद करें, एक बार फिर से राष्ट्र की कमान, हम हिन्दुस्तानी अपने हाथ धरे, आओ स्वंतंत्र दिवस का सम्मान करें!


💃🏻🇨🇮🌿🌹🇮🇳🇮🇳🌷🇮🇳🏌🏻‍♂ वो अब पानी को तरसेंगे जो गंगा छोड़ आये हैं, हरे झंडे के चक्कर में तिरंगा छोड़ आये हैं। 💃🏻🇨🇮🌿🌹🇮🇳🇮🇳🌷🇮🇳🏌🏻‍♂


 ज़माने भर में मिलते हे आशिक कई , मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता , नोटों में भी लिपट कर, सोने में सिमटकर मरे हे कई, मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता


यक़ीन हो, के ना हो, बात तो यक़ीन की है, हमारे जिस्म की मिट्टी, इसी ज़मीन की है।


🌹 ज़श्न आज़ादी का यूँ मनाया जाये, दर्द हर दिल का मोहब्बत से मिटाया जाए। Happy Independence Day 🌹


🏌🏻‍♂ खून से खेलेंगे होली, अगर वतन मुश्किल में है, सरफरोशी की तमन्ना, अब हमारे दिल में है, 💃🏻


💃🏻🇨🇮🌿🌹🇮🇳🇮🇳🌷🇮🇳🏌🏻‍♂ सदा ही लहराता रहे ये तिरंगा हमारा सारे जहां से अच्छा हिन्दुस्तान हमारा गूंज उठता हैं जहां में चारो ओर….. लोगो की जुबान से वन्दे मातरम का नारा वतन की सर बुलंदी के लिए ये दिल क्या ख़ुशी ख़ुशी मिट जाए ये जिस्म भी हमारा जो शहीद हो गए वो अमर कहलाये अक्सर उनकी कुरबानियों के आगे सदा नमन हमारा इस देश के वासी बखूबी ये जानते हैं की सोने की चिड़िया कहलाता प्यारा देश हमारा 💃🏻🇨🇮🌿🌹🇮🇳🇮🇳🌷🇮🇳🏌🏻‍♂


🌹🇨🇮🇮🇳🇮🇳🌹🏌🏻‍♂🇮🇳🇮🇳🌾 हम ज़मीं को तेरी नापाक न होने देंगे, तेरे दामन को कभी चाक न होने देंगे। तुझ को जीते हैं तो ग़मनाक न होने देंगे, ऐसी इक्सीर को यूँ ख़ाक न होने देंगे। जी में ठानी है यही जी से गुज़र जायेंगे, कम से कम वादा ये करते हैं के मर जायेंगे। 🌹🇨🇮🇮🇳🇮🇳🌹🏌🏻‍♂🇮🇳🇮🇳🌾


🌹🇨🇮🇮🇳🇮🇳🌹🏌🏻‍♂🇮🇳🇮🇳🌾 सुन्दर है जग में सबसे, नाम भी न्यारा है, जहाँ जाती-भाषा से बढ़कर, देश-प्रेम की धारा है, निशचल, पवन, प्रेम पुराना, वो भारत देश हमारा है!! स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाये! 🌹🇨🇮🇮🇳🇮🇳🌹🏌🏻‍♂🇮🇳🇮🇳🌾


🇮🇳🇮🇳😘🇨🇮💐💐🇮🇳🇮🇳 रात के अंधियारे में , जब तक रुतबा रहेगा चाँद का , कारगिल की चोटियों पर , तब तक फैरता रहेगा तिरंगा शान का . धरती क्या आसमान में , डंका बजेगा हिंदुस्तान नाम का..!! 🇮🇳🇮🇳😘🇨🇮💐💐🇮🇳🇮🇳


🇮🇳 आओ झुक कर सलाम करे उनको; जिनके हिस्से में ये मुकाम आता है; खुशनसीब होता है वो खून जो देश के काम आता है! 🇮🇳


 छोडो कल की बातें, कल की बात पुरानी, नए दौर में लिखेंगे, मिल कर नयी कहानी, हम हिन्दुस्तानी!


 विकसित होता राष्ट्र हमारा, रंग लाती हर कुर्बानी है फक्र से अपना परिचय देते, हम सारे हिन्दोस्तानी है |


🇮🇳 आन देश की शान देश की, देश की हम संतान हैं, तीन रंगों से रंगा तिरंगा, अपनी ये पहचान है! 🇮🇳


 चड़ गये जो हंसकर सूली; खाई जिन्होने सीने पर गोली; हम उनको प्रणाम करते हैं! जो मिट गये देश पर; हम सब उनको सलाम करते हैं! स्वतंत्रता दिवस की बधाई!


🇮🇳 ये बात हवाओं को बताये रखना, रोशनी होगी चिरागों को जलाये रखना! लहू देकर जिसकी हिफाज़त हमने की, ऐसे तिरंगे को सदा दिल में बसाये रखना!! 🇮🇳


🇮🇳 वतन हमारा ऐसा कोई ना छोड पाये , रिश्ता हमारा ऐसा कोई न तोड़ पाये , दिल एक है जान एक है हमारी , हिन्दुस्तान हमारा है यह शान हैं हमारी। 🇮🇳


मज़हब कुछ हो हिंदी हैं हम सारे भाई भाई हैं, हिन्दू हैं या मुस्लिम हैं या सिख हैं या ईसाई हैं। प्रेम ने सब को एक किया है प्रेम के हम शैदाई हैं, भारत नाम के आशिक़ हैं हम भारत के शौदाई हैं। भारत प्यारा देश हमारा सब देशों से न्यारा है।


 गूँज रहा है दुनिया में भारत का नगारा, चमक रहा आसमान में देश का सितारा! आज़ादी के दिन आओ मिलके करें, दुआ की बुलंदी पर लहराता रहे तिरंगा हमारा!!


🇮🇳 ज़माने भर में मिलते हे आशिक कई , मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता , नोटों में भी लिपट कर, सोने में सिमटकर मरे हे कई , मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता.


 मुकम्मल है इबादत और मैं वतन ईमान रखता हूँ, वतन के शान की खातिर हथेली पे जान रखता हूँ !! क्यु पढ़ते हो मेरी आँखों में नक्शा पाकिस्तान का , मुस्लमान हूँ मैं सच्चा, दिल में हिंदुस्तान रखता हूँ !!


 काँटों में भी फूल खिलाएं इस धरती को स्वर्ग बनायें, आओ, सब को गले लगायें हम स्वतंत्रता का पर्व मनाएं


 इस देश के गौरव के खातिर, चल कुछ ऐसा काम करें, दुनिया देखे इसकी शान, और दुनिया वाले सलाम करें। 15 अगस्त यानी आज़ादी की शुभ कामनाएँ। Happy Independence.


 संस्कार और संस्कृति की शान मिले ऐसे, हिन्दू मुस्लिम और हिंदुस्तान मिले ऐसे हम मिलजुल के रहे ऐसे की मंदिर में अल्लाह और मस्जिद में राम मिले जैसे.

National Independence day shayari


 गंगा यमुना यहाँ नर्मदा, मंदिर मस्जिद के संग गिरजा शांति प्रेम की देता शिक्षा , मेरा भारत सदा सर्वदा…


 वतन हमारा मिसाल मोहब्बत की तोड़ता है दीवार नफरत की, मेरी खुशनसीबी कि मिली ज़िन्दगी इस चमन में, भुला न सके कोई इसकी खुशबू सातों जनम में, 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस की बधाई


 किसकी राह देख रहा, तुम खुद सिपाही बन जाना, सरहद पर ना सही, सीखो आंधियारो से लढ पाना ।


आजादी का जोश कभी काम न होने देंगे, जब भी जरुरत पड़ेगी देश के लिए जान लूटा देंगे, क्योंकि भारत हमारा देश है, अब दोबारा इस पर कोई आंच न आने देंगे जय हिन्द.


 मैं इसका हनुमान हु, ये देश मेरा राम है, छाती चिर के देख लो, अंदर बैठा हिंदुस्तान है, जय हिन्द


🇮🇳 पंखो को फैलाये मोर तो बहोत देखे है, आस्मां में छाये बादल भी बहुत बार देखे है, शोर भी बारिश के 1000 देखे है, जब से है तू मिला, मेरा चेहरा झट से खिला. 🇮🇳


 ज़िन्दगी है कल्पनाओ की जंग, कुछ तो करो इसके लिये दबंग, जियो शान से भरो उमंग, लहराओ सब के दिल में देश के लिए तरंग.


🌹 इतना ही कहना काफी नही भारत हमारा मान है, अपना फ़र्ज़ निभाओ देश कहे हम उसकी शान है | 🌹


 तैरना है तो समंदर में तैरो, नदी और नैहरो में क्या रखा है, प्यार में मरना है तो वतन पे मरो, वतन पे मरोगे तो नाम होगा, किसी और के प्यार में मरोगे तो नाम बदनाम होगा।


🇮🇳 तैरना है तो समंदर में तैरो, नदी और नैहरो में क्या रखा है, प्यार में मरना है तो वतन पे मरो, वतन पे मरोगे तो नाम होगा, किसी और के प्यार में मरोगे तो नाम बदनाम होगा। 🇮🇳


🇮🇳 अलग है भाषा, धर्म जात, और प्रांत, भेष, परिवेश, पर हम सब का एक ही गौरव है, राष्ट्रध्वज तिरंगा श्रेठ गणत्रंता दिवस की हार्दिक सुभ कामनाये.


 वो फिर आया है नये सवेरे के साथ, मिल ज़ुल कर रहेंगे हम एक दूजे के साथ, वो तिरंगा कितना प्यारा है, वो है देखो सबसे प्यारा न्यारा, आने ना देंगे उस पे आंच, Happy Republic Day.


💐 नहीं सिर्फ जशन मनाना, नहीं सिर्फ जंडे लहराना, ये काफी नहीं है वतन पर. यादों को नहीं भुलाना, जो कुर्बान हुए उनके लफ़्ज़ों को आगे बढ़ाना, खुदा के लिए नहीं, ज़िन्दगी वतन के लिए लुटाना. 💐


🇮🇳खुशनसीब होते है वो लोग जो वतन पर मिट जाते है, मर कर भी वो लोग सदा के लिए अमर हो जाते है, करते है तुम्हे सलाम-ऐ-वतन पर मिटने वालो, तुम्हारी हर एक साँस में बस्ता तिरंगे का नसीब है. 🇮🇳


 ज़माने भर में मिलते है आशिक़ कई, मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता, नोटों में लिपट कर, सोने में सिमट कर मरे है कई, मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता.


 ना सरकार मेरी है ! ना रौब मेरा है ! ना बड़ा सा नाम मेरा है ! मुझे तो एक छोटी सी बात का गर्व हैं, मैं “हिन्दुस्तान” का हूँ और “हिन्दुस्तान” मेरा है।


 देश भक्तो की बलिदान से, स्वतंत्रा हुए है हम, कोई पूछे कोन हो, तो गर्व से कहेंगे, भारतीय है हम,


 अलग है भाषा, धर्म जात, और प्रांत, भेष, परिवेश, पर हम सब का एक ही गौरव है, राष्ट्रध्वज तिरंगा श्रेठ गणत्रंता दिवस की हार्दिक सुभ कामनाये.


 वो तिरंगे वाली डीपी हो तो लगा लो जरा…bhai ji सुना है कल देशभक्ति दिखाने वाली तारीख है. . . !


 दाग गुलामी का धोया है जान लुटा कर, दीप जलाये है कितने दीप बुझा कर, मिली है जब ये आज़ादी तो फिर से इस आज़ादी को, रखना होगा हर दुश्मन से आज बचाकर.


 वह शमा जो काम आये अंजुमन के लिए, वह जज़्बा जो क़ुर्बान हो जाये वतन के लिए, रखते है हम वह हौसलें भी, जो मर मिटे हिंदुस्तान के लिए.


 वो फिर आया है नये सवेरे के साथ, मिल ज़ुल कर रहेंगे हम एक दूजे के साथ, वो तिरंगा कितना प्यारा है, वो है देखो सबसे प्यारा न्यारा, आने ना देंगे उस पे आंच,


 मेरा जूता है जापानी; पतलून है इंग्लिश तानी, सर पर लाल टोपी रुसी; फिर भी दिल है हिन्दुस्तानी।


 क्यों मरते हो यारो सनम के लिए, ना देगी दुप्पटा कफ़न के लिए, मरना है तो मारो वतन के लिए, तिरंगा तो मिलेगा कफ़न के लिए, Jai Hind


🚀 मन में सारी बातें छिपाये रखना, अगर कुछ तुम्हे अच्छा ना लगे तो मन में दबाये रखना, क्योंकि हम भारत के वासी है, वक़्त पर हम दिखा देंगे ज़माने को, की देश हम जैसे जवान को है बचाये रखना. 🚀


 वतन हमारा ऐसा कोई न छोड़ पाये, रिश्ता हमारा ऐसा कोई न तोड़ पाये, दिल एक है एक है जान हमारी, हिंदुस्तान हमारा है हम इसकी शान है.


 मन में सारी बातें छिपाये रखना, अगर कुछ तुम्हे अच्छा ना लगे तो मन में दबाये रखना, क्योंकि हम भारत के वासी है, वक़्त पर हम दिखा देंगे ज़माने को, की देश हम जैसे जवान को है बचाये रखना.


वतन हमारा ऐसा कोई ना छोड पाये , रिश्ता हमारा ऐसा कोई न तोड़ पाये , दिल एक है जान एक है हमारी , हिन्दुस्तान हमारा है यह शान हैं हमारी।


कुछ नशा तिरंगे की आन है, कुछ नशा मातृभूमि की शान का है, हम लहराएँगे हर जगह ये तिरंगा, नशा ये हिंदुस्तान की शान का है.


L आओ झुक के सलाम करें उनको, जिनके हिस्से में ये मुकाम आता है, खुशनसीब होता है वो खून, जो देश के काम आता है.


 तैरना है तो समंदर में तैरो, नदी और नैहरो में क्या रखा है, प्यार में मरना है तो वतन पे मरो, वतन पे मरोगे तो नाम होगा, किसी और के प्यार में मरोगे तो नाम बदनाम होगा।


 सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है देखना है ज़ोर कितना बाज़ू-ए-क़ातिल में है


 इस दिन के लिए वीरो ने अपना खून बहाया है, झूम उठो देशवासियों गणतंत्र दिवस फिर आया है।


चलो फिर से खुद को जागते है, अनुशासन का डंडा फिर घुमाते है, सुनहरा रंग है गणत्रंत्र का शहीदों के लहू से, ऐसे शहीदों को हम सब सर झुकाते है.


 वतन हमारा ऐसा कोई न छोड़ पाये, रिश्ता हमारा ऐसा कोई न तोड़ पाये, दिल एक है एक है जान हमारी, हिंदुस्तान हमारा है हम इसकी शान है.


 बंद करो ये तुम आपस में खेलना अब खून की होली, उस मा को याद करो जिसने खून से चुन्नर भिगोली । गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ


 कुछ कर गुजरने की गर तमन्ना उठती हो दिल में, भारत मा का नाम सजाओ दुनिया की महफिल में ।

 गंगा यमुना यहाँ नर्मदा, मंदिर मस्जिद के संग गिरजा शांति प्रेम की देता शिक्षा , मेरा भारत सदा सर्वदा…


 वतन हमारा मिसाल मोहब्बत की तोड़ता है दीवार नफरत की, मेरी खुशनसीबी कि मिली ज़िन्दगी इस चमन में, भुला न सके कोई इसकी खुशबू सातों जनम में, 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस की बधाई


 किसकी राह देख रहा, तुम खुद सिपाही बन जाना, सरहद पर ना सही, सीखो आंधियारो से लढ पाना ।


आजादी का जोश कभी काम न होने देंगे, जब भी जरुरत पड़ेगी देश के लिए जान लूटा देंगे, क्योंकि भारत हमारा देश है, अब दोबारा इस पर कोई आंच न आने देंगे जय हिन्द.


 मैं इसका हनुमान हु, ये देश मेरा राम है, छाती चिर के देख लो, अंदर बैठा हिंदुस्तान है, जय हिन्द


🇮🇳 पंखो को फैलाये मोर तो बहोत देखे है, आस्मां में छाये बादल भी बहुत बार देखे है, शोर भी बारिश के 1000 देखे है, जब से है तू मिला, मेरा चेहरा झट से खिला. 🇮🇳


 ज़िन्दगी है कल्पनाओ की जंग, कुछ तो करो इसके लिये दबंग, जियो शान से भरो उमंग, लहराओ सब के दिल में देश के लिए तरंग.

26 January shayari


🌹 इतना ही कहना काफी नही भारत हमारा मान है, अपना फ़र्ज़ निभाओ देश कहे हम उसकी शान है | 🌹


 तैरना है तो समंदर में तैरो, नदी और नैहरो में क्या रखा है, प्यार में मरना है तो वतन पे मरो, वतन पे मरोगे तो नाम होगा, किसी और के प्यार में मरोगे तो नाम बदनाम होगा।


🇮🇳 तैरना है तो समंदर में तैरो, नदी और नैहरो में क्या रखा है, प्यार में मरना है तो वतन पे मरो, वतन पे मरोगे तो नाम होगा, किसी और के प्यार में मरोगे तो नाम बदनाम होगा। 🇮🇳


🇮🇳 अलग है भाषा, धर्म जात, और प्रांत, भेष, परिवेश, पर हम सब का एक ही गौरव है, राष्ट्रध्वज तिरंगा श्रेठ गणत्रंता दिवस की हार्दिक सुभ कामनाये.


 वो फिर आया है नये सवेरे के साथ, मिल ज़ुल कर रहेंगे हम एक दूजे के साथ, वो तिरंगा कितना प्यारा है, वो है देखो सबसे प्यारा न्यारा, आने ना देंगे उस पे आंच, Happy Republic Day.


💐 नहीं सिर्फ जशन मनाना, नहीं सिर्फ जंडे लहराना, ये काफी नहीं है वतन पर. यादों को नहीं भुलाना, जो कुर्बान हुए उनके लफ़्ज़ों को आगे बढ़ाना, खुदा के लिए नहीं, ज़िन्दगी वतन के लिए लुटाना. 💐


🇮🇳खुशनसीब होते है वो लोग जो वतन पर मिट जाते है, मर कर भी वो लोग सदा के लिए अमर हो जाते है, करते है तुम्हे सलाम-ऐ-वतन पर मिटने वालो, तुम्हारी हर एक साँस में बस्ता तिरंगे का नसीब है. 🇮🇳


 ज़माने भर में मिलते है आशिक़ कई, मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता, नोटों में लिपट कर, सोने में सिमट कर मरे है कई, मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता.


 ना सरकार मेरी है ! ना रौब मेरा है ! ना बड़ा सा नाम मेरा है ! मुझे तो एक छोटी सी बात का गर्व हैं, मैं “हिन्दुस्तान” का हूँ और “हिन्दुस्तान” मेरा है।


 देश भक्तो की बलिदान से, स्वतंत्रा हुए है हम, कोई पूछे कोन हो, तो गर्व से कहेंगे, भारतीय है हम,


 अलग है भाषा, धर्म जात, और प्रांत, भेष, परिवेश, पर हम सब का एक ही गौरव है, राष्ट्रध्वज तिरंगा श्रेठ गणत्रंता दिवस की हार्दिक सुभ कामनाये.


 वो तिरंगे वाली डीपी हो तो लगा लो जरा…bhai ji सुना है कल देशभक्ति दिखाने वाली तारीख है. . . !


 दाग गुलामी का धोया है जान लुटा कर, दीप जलाये है कितने दीप बुझा कर, मिली है जब ये आज़ादी तो फिर से इस आज़ादी को, रखना होगा हर दुश्मन से आज बचाकर.


 वह शमा जो काम आये अंजुमन के लिए, वह जज़्बा जो क़ुर्बान हो जाये वतन के लिए, रखते है हम वह हौसलें भी, जो मर मिटे हिंदुस्तान के लिए.


 वो फिर आया है नये सवेरे के साथ, मिल ज़ुल कर रहेंगे हम एक दूजे के साथ, वो तिरंगा कितना प्यारा है, वो है देखो सबसे प्यारा न्यारा, आने ना देंगे उस पे आंच,


 मेरा जूता है जापानी; पतलून है इंग्लिश तानी, सर पर लाल टोपी रुसी; फिर भी दिल है हिन्दुस्तानी।


 क्यों मरते हो यारो सनम के लिए, ना देगी दुप्पटा कफ़न के लिए, मरना है तो मारो वतन के लिए, तिरंगा तो मिलेगा कफ़न के लिए, Jai Hind


🚀 मन में सारी बातें छिपाये रखना, अगर कुछ तुम्हे अच्छा ना लगे तो मन में दबाये रखना, क्योंकि हम भारत के वासी है, वक़्त पर हम दिखा देंगे ज़माने को, की देश हम जैसे जवान को है बचाये रखना. 🚀


 वतन हमारा ऐसा कोई न छोड़ पाये, रिश्ता हमारा ऐसा कोई न तोड़ पाये, दिल एक है एक है जान हमारी, हिंदुस्तान हमारा है हम इसकी शान है.


 मन में सारी बातें छिपाये रखना, अगर कुछ तुम्हे अच्छा ना लगे तो मन में दबाये रखना, क्योंकि हम भारत के वासी है, वक़्त पर हम दिखा देंगे ज़माने को, की देश हम जैसे जवान को है बचाये रखना.


वतन हमारा ऐसा कोई ना छोड पाये , रिश्ता हमारा ऐसा कोई न तोड़ पाये , दिल एक है जान एक है हमारी , हिन्दुस्तान हमारा है यह शान हैं हमारी।


कुछ नशा तिरंगे की आन है, कुछ नशा मातृभूमि की शान का है, हम लहराएँगे हर जगह ये तिरंगा, नशा ये हिंदुस्तान की शान का है.


L आओ झुक के सलाम करें उनको, जिनके हिस्से में ये मुकाम आता है, खुशनसीब होता है वो खून, जो देश के काम आता है.


 तैरना है तो समंदर में तैरो, नदी और नैहरो में क्या रखा है, प्यार में मरना है तो वतन पे मरो, वतन पे मरोगे तो नाम होगा, किसी और के प्यार में मरोगे तो नाम बदनाम होगा।


 सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है देखना है ज़ोर कितना बाज़ू-ए-क़ातिल में है


 इस दिन के लिए वीरो ने अपना खून बहाया है, झूम उठो देशवासियों गणतंत्र दिवस फिर आया है।


चलो फिर से खुद को जागते है, अनुशासन का डंडा फिर घुमाते है, सुनहरा रंग है गणत्रंत्र का शहीदों के लहू से, ऐसे शहीदों को हम सब सर झुकाते है.


 वतन हमारा ऐसा कोई न छोड़ पाये, रिश्ता हमारा ऐसा कोई न तोड़ पाये, दिल एक है एक है जान हमारी, हिंदुस्तान हमारा है हम इसकी शान है.


 बंद करो ये तुम आपस में खेलना अब खून की होली, उस मा को याद करो जिसने खून से चुन्नर भिगोली । गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ


 कुछ कर गुजरने की गर तमन्ना उठती हो दिल में, भारत मा का नाम सजाओ दुनिया की महफिल में ।


No comments:

Post a comment